Mon. May 20th, 2024
    pinjare-ki-murg-Never-ever-quit-motivations-inspirations-motivational-video-story-pinjre-ki-murgi-mat-bano-trending-inspirational

    एक शिष्य अपने गुरु के पास पंहुचा और बोला लोगो को खुश रहने के लिए क्या चाहिए तुम्हे क्या लगता है गुरु ने शिष्य को खुद इसका उत्तर देने के लिए कहा शिष्य एक क्षण के लिए सोचने लगा और बोला फिर शिष्य ने कहा मुझे लगता है अगर किसी की मूलभूत आवशकताए पूरी होती हो खाना पीना मिलता रहे, रहने के लिए जगह हो ,एक अच्छी सी नौकरी हो या कोई काम हो, सुरक्षा हो तो वह खुश होगा यह सुनकर गुरु कुछ नहीं बोले और उसे अपने पीछे चलने का इशारा करके चलने लगे |(Pinjare Ki Murgi)

    pinjare-ki-murgi-motivational-story-hindi

    गुरु ने शिष्य को दरवाजा खोलने के लिए कहा शिष्य ने दरवाजा खोल दिया अब वहां पर मुर्गियों का दडबा था वहां मुर्गियों और चूजो का ढेर लगा था वे सभी बड़े बड़े पिंजरों में कैद थे शिष्य ने बहुत आश्चर्य से पूछा आप मुझे ये क्यूँ दिखा रहे है फिर गुरु जी शिष्य से प्रशन करने लगे की क्या इन मुर्गियों को खाना मिलता है शिष्य ने जवाब दिया हाँ  गुरु जी ने कहा क्या इनके पास रहने के लिए घर है  शिष्यं ने जवाब दिया हाँ कह सकते है |(Pinjare Ki Murgi)

    pinjare-ki-murgi-motivational-story-hindi

    क्या ये यहाँ कुत्ते बिल्लियों से सुरक्षित है शिष्यं कहा हाँ क्या उनके पास कोई काम है हाँ है अंडे देने का फिर गुरु जी कहा क्या वो खुश है ? शिष्य मुर्गियों को करीब से देखने लगा उसे नहीं पता चला की कैसे पता करें की कोई मुर्गी खुश है भी या नहीं | और क्या सचमुच कोई मुर्गी खुश हो सकती है वो ये सोच ही रहा था की गुरु जी ने इशारा किया मेरे साथ आओ दोनों चलने लगे और कुछ देर बाद एक बड़े मैदान के पास जा कर रुके |

    मैंदान में देर सारी मुर्गियां और चूजे थे वे न किसी पिजरे में कैद थे और न उन्हे कोई दाना डालने वाला था वे खुद ही ढूढ़ ढूढ़ कर दाना चुग रहे थे और आपस में खेल कूद कर रहे थे फिर गुरु ने शिष्य से पूछा क्या ये मुर्गियां खुश दिख रही है शिष्य को ये सवाल थोडा अटपटा सा लगा वो सोचने लगा यहाँ माहौल कुछ अलग है और ये मुर्गियां प्राकर्तिक तरीके से रह रही है खा पी रही है और ज्यादा स्वस्थ दिख रही है और फिर शिष्य दबी आवाज में बोला शायद बिलकुल मुर्गियां खुश है |

    गुरु जी ने शिष्य को कहा बेतुके मत बनो पहली वाली जगह पर जो मुर्गियां है उनके पास वो सब चीजे है जो तुमने खुश रहने के लिए जरुरी मानी थी उनकी मूलभूत आवशकताएँ , खाना पीना , रहना सब कुछ है करने के लिए भी काम है सुरक्षा भी है पर क्या वे खुश है वही मैदान में घूम रही मुर्गियों को अपना भोजन ढूढना पड़ता है रहने का इंतजाम करना पड़ता है अपनी और अपने चूजो की सुरक्षा करनी पड़ती है पर फिर भी वे खुश है गुरूजी बोले बस यही में तुम्हे समझाना चाहता था कौन ज़िन्दगी में  ज्यादा खुश है और क्या हमें जीवन में चाहिए |(Pinjare Ki Murgi)

    Pinjare Ki Murgi कहानी से सीख

    दोस्तों इस कहानी से हमें सीखना चाहिए हमें जीवन में एक चुनाव करना है या तो हम मुर्गियों की तरह बंद पिंजरे में जी सकते है एक ऐसा जीवन जहाँ पर हमारा कोई भी अस्तित्व नहीं होता है या मैदान की उन मुर्गियों की तरह जोखिम उठा कर आज़ाद जीवन जी सकते है अपने अन्दर छुपी कलाओं को खोज सकते है सिर्फ सांस ले कर तुम जीवन में खुश नहीं रह सकते खुश रहने के लिए तुम्हारे अंदर जीवन को सचमुच जीने की हिम्मत होनी चाहिए अगर जीवन में खुश रहना है तो पिंजरे मैं कैद रहने वाली मुर्गी मत बनो एक आज़ाद जीवन जियो जो तुम्हे खुश कर सके हर दिखने वाली चीज़ कभी भी सोना नहीं होती |

    दोस्तों आप Motivational Story का विडियो नीचे दिया गया है आप देख सकते है |

    Translate »